SEO In Hindi(हिन्दी)

0
47
Hello Friends Welcome to DigitalGuruJi
seo in hindi
seo in hindi


यदि आप एक blogger हैं तो आप अपने Blog या website पर ट्रैफिक लाने के लिए हमेशा ही लगे रहते होंगे। क्या आपको ये पता है की अपने Blog या Website पर Search Engine जैसे Google,Yahoo से ट्रैफिक लाने के लिए अपने ब्लॉग का SEO (Search Engine Optimization) करनी होगी। आज में आपको SEO in Hindi के बारे में फुल detail में बताउगा। 

इसलिए अब आप बहुत से अलग-अलग SEO related websites पर जब आप इसे करने के तरीकों के बारे में ढूंढ़ते हैं तो आपको हर जगह अलग-अलग चीज़ें बताई जाती हैं। अब कौनसी चीज़ें सही है या कौनसी नहीं, ये तो आप की खुद की समझदारी पर ही depend करता है। 

चलिए फिर भी कुछ tricks ऐसे है जोकि SEO in Hindi के बारे में लोगो को गुमराह करते हैं। ऐसी ही चीज़ों के बारे में आज हम इस post में बात करेंगे।

Top 10 Tricks of SEO In Hindi

तो चलिए जानते हैं, Hindi SEO के बारे में Top 10 Tricks जो हम अलग-अलग लोगों से सुनते रहते हैं। SEO In Hindi के बारे में और जानने के लिए हमने दूसरी पोस्टो की Links दी हैं आप उन पर जाकर और भी जानकारी ले सकते हैं। आज SEO को हम हिंदी में बता रहे है क्योकि इंडिया में ऐसे बहुत से लोग है जोकि English नहीं जानते इसलिए आज में आपको Hindi में SEO को फुल डिटेल्स में बताने जा रहे है। 

1.Meta Tag In SEO 

एक समय था, की जब Search Engine में अलग-अलग Websites की ranking केवल meta tags discription जैसे की meta title, meta description और tags पर ही depend करती थी. लेकिन  ये काफी पहले होता था।
 
जैसे-जैसे technology में advance होती गयी, वैसे-वैसे search engines भी  sites को meta tags की बजाय content की quality और लोगों की जरूरत के हिसाब से देखने और rank करने लगें हैं. ऐसे में बहुत से लोग आपको ये कहेंगे की आप Meta tags का प्रयोग करना ही छोड़ दें.
 
लेकिन ये आपके लिए बहुत बुरी advice होगी. क्योकि चाहे meta tags का महत्व पहले जितना नहीं हो, लेकिन आज की date में भी ये बहुत Important हैं. इसलिए आपके लिए मेरा ये सुझाव होगा की आप हर पोस्ट में meta tags का प्रयोग ज़रूर करें।

2. क्या .Com or .In Domain लेने से आपके Blog पर Traffic आ जायेगा???

ये एक बहुत बडी चीज़ है और इसे मिटाना बहुत ज़रूरी है. ज़्यादातर blogs और Youtube पर बताया जाता है की आप अपने ब्लॉग या website के लिए केवल .com,.in domain ही लें और इसके इलावा यदि आप कोई और domain लेंगे को आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं आएगा. और ऐसा बिलकुल भी नहीं हैं। 
 
आपके पास चाहे कोई भी domain हो, उसका search Engine और Traffic के साथ कुछ खास लेना देना नहीं होता है। क्योकि Domain से आपके customers या visitors पर ज्यादा फर्क नहीं पड़ता हैं. लेकिन ये चीज़ आपके लिए बहुत Matter करती है। आपको एक ऐसा domain name लेना चाहिए जो लोगों को आसानी से याद रह सके।
 
अब usually सब websites के साथ .com लगाते हैं तो .com लोगों के मन में बसा हुआ है. लेकिन इसका मतलब ये बिलकुल नहीं है कि दूसरे domain Name जैसे कि .in, .co.in, .Net और.Org आदि जैसे Domains पर ट्रैफिक नहीं आएगा। इनकी भी value .com की तरह ही होती है। लेकिन कुछ Domains Country specific websites के लिए .in जैसे domains india के लिए बहुत बार .com से बढ़िया साबित होते हैं। 

3. नया Content जल्दी Rank करता है??

जैसे-जैसे चीज़े नयी होती जा रही है, वैसे-वैसे content भी पुराना होता जाता है और उसकी जगह नयें content आ जाता है. अब जैसे कोई किसी का ब्लॉग content 2 या 3 साल पुराना है लेकिन वो अभी पहले number पर Rank कर रहा है, इसका मतलब ये तो बिलकुल भी नहीं है कि आप अभी नया content लिखकर पब्लिश कर देते हैं और आपका Post Rank कर जायेगा। 
 
फिर चाहे, वो ब्लॉग पहले से रैंक कर रहा है, उसका content पुराना है, लेकिन और बहुत से factors है जोकि उस Blog को पहले number पर रैंक करवाने में उसके plus points है. इसीलिए content को नया करने से केवल, कुछ नहीं होता है। 

4. Backlinks या Internal-links Matter नहीं करती???

आजकल बहुत सारे लोग आपको content के बारे में बहुत लम्बे-चौड़े सुझाव देते होंगे लेकिन साथ-साथ आपको ऐसा ये भी कहेंगे की back link या internal linking करना matter नहीं करता क्योंकि Content ही सब कुछ हैं. और मैं इस बात को मानता भी हूँ कि content ही सब कुछ है लेकिन यदि आप सही तरीके से internal linking और backlinking करते हैं तो यह आपके content की quality बढ़ाता है और एक plus point भी होता है. इसलिए में भी ऐसे इस्तेमाल करता हूँ. Backlinking या internal linking से आपको कोई भी SEO benefit नहीं मिलता है।
 

5. Guest Blogging In SEO

SEO करने के लिए लोग बहुत से black hat तरीके जैसे की irrelevant blogs पर guest posting करके spam backlinks create करना इत्यादि भी करते हैं. ऐसे में जो लोग सही तरीके से guest blogging करके natural backlinks बनाते हैं तो उनके मन में कहीं न कहीं ये वहम हो सकता है।
 
यदि वे Guest blogging करते है तो शायद वह भी spam की तरह treat हो और शायद उससे उनको कोई भी benefit न हो। देखिये ऐसा बिलकुल नहीं होता है, यदि आप सही तरीके से natural way में guest posting करेंगे तो आपको surely benefits में ही होंगे।

6. SEO Agency को hire करने से आपकी वेबसाइट की ranking बढ़ जाती हैं

यह भी एक बहुत बड़ा myth है की यदि आप किसी SEO Agency को अपने ब्लॉग या website की SEO करने के लिए hire करेंगे तो आपके ब्लॉग की ranking बढ़ जाएगी. ऐसा तो बिलकुल भी sure नहीं है।
 
हाँ, मैं ऐसा भी नहीं कहता कि आपको benefit नहीं होगा। कुछ agencies सही होती है, तो आपके ब्लॉग की SEO करने में आपकी मदद करती है. लेकिन देखिये SEO एक time consuming और long term में result देने वाला process है, तो ऐसे में कोई SEO agency hire करने से आपको कुछ benefit नहीं होगा. मेहनत फिर भी आप की ही लगेगी। 

7. Keyword Research क्या होता हैं 

बहुत से लोग Keyword research नहीं करते और जो मर्ज़ी अपने ब्लॉग पर content के रूप में लिख देते हैं और फिर बैठे देखते हैं कि उनके ब्लॉग पर आखिर ट्रैफिक क्यों नहीं आ रहा है. अब आप खुद सोचिये यदि आप अपने ब्लॉग पर कुछ ऐसा लिखेंगे जिसे लोग search ही नहीं कर रहें है तो फिर आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक आखिर आ कहाँ से जायेगा
इसीलिए, मैं आपको बता दूँ की SEO का पहला step content के लिए Keyword research करना है। 

8. Paid Search से आपके blog की rankings भी अच्छी होंगी

काफी सारे Digital marketers आपको ये बतायेंगे की यदि आप Google के paid search compaigns जैसे की Google Adwords के ज़रिये advertise करेंगे तो जिस website को आप advertise करेंगे तो उसे search इंजन benefit देगा और उसकी ranking भी बढ़ेगी। 

क्या आपको seriously लगता है की Google ऐसा करेगा? Google कहता है की उसका मंतव है: लोगों जो चाहते हैं उनको देखायिये, बाकि सब अपने-आप पीछे आएगा. Google search results में किसी भी हद में केवल अच्छे results ही show करेगा जो वह अपनी algorithms से decide करता है. ऐसे में यदि आप paid campaigns करेंगे भी तो भी आपको को कोई organic search benefit तो बिलकुल भी नहीं मिलेगा। 

9. Content Long होने से ज्यादा Traffic आता है??

ज्यादा content SEO के लिए एक plus point होता है, लेकिन इसका अर्थ ये नहीं की यदि आपके पास ज्यादा content होगा तो ही आप पहले number पर रैंक कर पाएंगे।  ज्यादा content के साथ-साथ उसकी quality और अन्य बहुत से factors है जो matter करते हैं. केवल ज्यादा content लिखकर या फिर ज्यादा posts लिखकर आप कुछ हासिल नहीं कर पाएंगे।

SEO में Content को king भी कहा जाता क्योकि Seo में किसी भी Website या Blog का Content ही बहुत महत्वपूर्ण होता है Google पर Rank करने के लिए, फिर चाहे आपकी वेबसाइट हिंदी में हो या किसी भी भाषा में हो अपनी Website का Seo करने में content की SEO की जड़ होती है।

10. Social Media पर Sharing

अब जब आप Search इंजन से ट्रैफिक लाने की बात करते है तो बहुत से लोग सोचते हैं की Social media का तो इसमें कोई लेना-देना है नहीं और Social media sharing से SEO में कोई benefit नहीं होगा। ये भी एक बहुत बड़ा myth है।
चलिए अंत में इस myth को भी burst करते हैं। जैसे आपके blogs के पास जितने ज्यादा quality backlinks होते हैं, उसका benefit मिलता है, उसी प्रकार जितने ज्यादा social media पर shares होंगे, उसका benefit भी ज़रूर मिलता है और Search Engine ranking के major factors में Social Media sharing एक है। इसीलिए आप एक बात को पक्का करें की आप अपने ब्लॉग posts में sharing options रखें ताकि आपके readers posts को शेयर कर सकें और आपके social media पर signals strong हो सकें। 
Note– Agar Appko hamari ye post Pasand Aayi to Comment Box mai Comment kr ke Mujhe Jarur  btaye or Appka koi Doubt yaa Question ho to Comment kr skte hai.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here